शिक्षक पंचायत हडताल खत्म होते ही…. स्कूल चलाने वाले युवाओ को हटाने का आदेश जारी

रायपुर  नया राजधानी स्थित इंद्रावति भवन के पंचायत संचालनालय के संचालक ने एक फरमान जारी करते हुए स्कूल मे तैनात वैकल्पित शिक्षको (युवाओ) को तत्काल कार्य से अलग करने के निर्देश जारी कर दिए है,, गौरतलब है कि शिक्षक पंचायत की प्रदेश व्यापी हडताल के दौरान शासकीय स्कूलो की शिक्षा व्यवस्था जारी रखने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था बनाई गई थी,, जिसके तहत संचालनालय ने सभी जिलो मे इस व्यवस्था को लागू करने के आदेश दिए थे,, लेकिन अब जब शिक्षक पंचायत हडतला समाप्त कर अपने अपने स्कूल की ओर लौट चुके है तो ऐसे मे ये फरमान जारी कर दिया गया है,,

रायपुर स्थित पंचायत संचालनालय के संचालक  आईएएस तारन प्रकाश सिन्हा ने प्रदेश के सभी जिला पंचायत सीईओ और सभी जनपद सीईओ के लिए आज गुरुवार को ये आदेश जारी किया है,, जिसमे उन्होने लिखा है कि शिक्षक पंचायत संवर्ग के आंदोलन की दौरान प्राथमिक शालाओ मे अध्यापन के लिए वैकल्पिक व्यवस्था के तहत गांव के ही 12 वी पास और मिडिल , हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी के लिए गांव के स्नातक या स्नातकोत्तर उपाधि धारी युवाओ को स्कूल मे पढाने के लिए स्वैच्छिक रुप से लेख किया गया था,,, लेकिन 5 दिसंबर को आंदोलन करने वाले पंचायत शिक्षको ने हडताल समाप्त कर स्कूल मे पढाई कार्य शुरु कर दिया है,, इसलिए स्वैच्छिक रुप से शालाओ मे कार्य करने वाले युवाओ को तत्काल कार्य से अलग किया जाए,,,, इसमे सरगुजा जिले के 1527 युवा शामिल है,, जो वैकल्पिक रुप से स्कूलो मे अध्यापन कार्य करा रहे थे,,,

नीचे पढिए आदेश की काँपी