Thursday , December 14 2017
Home / breakings / CM के मंच पर जब युवा कल्याण मंत्री भूल गए अपना भाषण…

CM के मंच पर जब युवा कल्याण मंत्री भूल गए अपना भाषण…

बलरामपुर (कृष्ण मोहन कुमार) प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह आज एक दिवसीय प्रवास पर जिले के शंकरगढ विकासखण्ड के ग्राम दोहना पहुँचे थे, मुख्यमंत्री ने 1 लाख 20 हजार 725 तेन्दूपत्ता संग्राहकों को 23 करोड़ 86 लाख 6 हजार 411 रूपए का बोनस वितरण किया। इसके साथ ही 1 अरब 3 करोड़ 52 लाख 78 हजार रूपए के विकास कार्यो का लोकार्पण तथा 47 करोड़ 75 लाख 16 हजार रूपए के विकास कार्यो का षिलान्यास किया गया। इस दौरान विभिन्न योजनाओं के तहत 2 हजार 476 हितग्राहियों को 6 करोड़ 86 लाख 62 हजार रूपए की सामग्री का वितरण किया गया।

श्रम मंत्री भूल गए अपना भाषण..

वही सीएम की मौजूदगी में राज्य सरकार के श्रम एवं युवक कल्याण मंत्री भईया लाल राजवाड़े जिले के प्रभारी मंत्री भी है,और वे बोनस तिहार मंच से अपना वक्तव्य दे रहे थे,यही नही मंत्री जी बीच मे ही अपना भाषण भूल गए,जिस पर वहाँ मौजूद जनसमुदाय ने जमकर चटकारे ली,और डॉक्टर साहब स्तब्ध होकर मंत्री जी को देखते रहे।

दरसल शंकरगढ़ ब्लाक के ग्राम दोहना में आयोजित बोनस तिहार में मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश के वन मंत्री महेश गागड़ा,गृह मंत्री रामसेवक पैकरा,श्रम मंत्री भईया लाल राजवाड़े सम्मिलित होने पहुँचे थे,इस दौरान सूबे के मुखिया ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को बोनस के साथ चरण पादुका वितरित की,इसके अलावा मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता संग्राहकों को स्मार्टफोन देने की योजना का जिक्र करते हुए कहा कि वे इस योजना पर विचार कर रहे है।

मुख्यमंत्री ने विभिन्न हितग्राही मुलक योजनाओं के हितग्राहीयो को सामग्री भी वितरित की।मुख्यमंत्री अविभाजित सरगुजा के बलरामपुर जिले में जिला बनने के बाद हो रहे विकास कार्यो को लेकर संतुष्ट दिखे,इसके अलावा मुख्यमंत्री स्मार्ट कार्ड  को की उपयोगिता का जिक्र करते हुए,सूबे के डॉक्टर ने वर्तमान में स्मार्ट कार्ड के लिए हो रहे पंजीयन के आकड़ो को लेकर भी काफी खुश दिखे। वही बोनस तिहार में बोनस लेने आये हितग्राहियों के चेहरे खिले हुए थे,और ये इस बात के परिणाम को सहज ही प्रमाणित कर रहे थे,की पहले की अपेक्षा अब उन्हें सरकार तेंदुपत्ता का बोनस दोगुना दे रही है।

सोने के पत्ते का बोनस लेने,उमड़ गए हितग्राही…

सोने का पत्ता कहा जाने वाला तेंदुपत्ता का बोनस लेने आये हितग्राहियों ने बताया कि उन्हें सरकार बोनस तो दे  रही है,इसके अलावा उनके परिवार के होनहार छात्र छात्राओं का भी सरकार विशेष ध्यान रख रही है,और उन्हें पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए भी सरकार छात्रवृत्ति बॉटने की योजना का सुचारू रूप से संचालन कर रही है।

2500रुपये मिल रहा है,बोनस

तेंदुपत्ता के संग्राहकों को सरकार चरण पादुका तो दे रही है,इसके साथ ही सरकार महिला तेंदुपत्ता संग्राहकों को साड़ी वितरित कर रही है,और पहले की अपेक्षा अब तेंदूपत्ता संग्राहकों की संख्या में इजाफा हुआ है।
प्रदेश सरकार अब तेंदूपत्ता संग्रहण कर जीवनयापन करने वाले लोगो को उचित मूल्य तो दे ही रही है,इसके साथ ही इस बार 2500 रुपये तेंदुपत्ता बोनस दिया जा रहा है,जिससे तेंदुपत्ता संग्राहकों के परिवारों की आर्थिक स्थिति को मजबूती देने का काम किया जा रहा है।

Check Also

होशियार… क्योकि आपके वाहन की डिक्की भी ऐसे ही खुल सकती है…!

ताला अलीगढ़ का ही क्यो ना हो, शातिर अपराधी उसकी चाभी खोज ही लेता है,,, …

Leave a Reply