समशान में हुआ विवाह और चिता स्थल पर लिए गए फेरे…

143
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

अपनी शादी को लोग बहुत धूमधाम से करना चाहते हैं। हर व्यक्ति चाहता हैं कि उसकी शादी लम्बे समय तक लोगों की याद में बनी रहें इसलिए लोग कुछ ऐसा करते हैं जिसके कारण उनका विवाह लोगों के लिए यादगार बन जाता हैं। आज हम आपको हाल ही में हुई एक ऐसी शादी के बारे में बताने जा रहें हैं जो श्मशान में संपन्न हुई थी।

देखा जाए तो शादी किसी पवित्र स्थान पर ही होती हैं पर आज हम आपको उस शादी के बारे में बता रहें हैं जो चिता स्थल व श्मशान में रचाई गई। इसके साथ ही आपको यहां देश की अन्य अजीबो गरीब शादियों के बारे में भी जानकारी दी जाएगी। आइये विस्तार से जानते हैं इन शादियों के बारे में।

समशान में विवाह

यह शादी गुजरात के भाव नगर के अंतर्गत आने वाले महुवा कस्बे में हुई थी। यहां के निवासी घनश्याम और कोली नामक युवकों ने श्मशान में शादी संपन्न की। तलगाजरडा के श्मशान घाट में इस विवाह को संपन्न किया गया। इस शादी को लेकर सभी लोग हैरान हैं। इन लोगों ने कहा कि मोरारी बापू ने बोला था कि श्मशान को लेकर समाज में भ्राँतियाँ ख़त्म होनी चाहिए। यही कारण हैं कि हम लोगों ने शादी के लिए श्मशान को चुना और मोरारी बापू की मौजूदगी में यह विवाह संपन्न हुआ।

समुद्र में शादी

समुद्र की गहराइयों में क्या शादी हो सकती हैं। शायद नहीं पर कुछ समय पहले ऐसा हुआ ही हुआ था। आपको बता दें कि यह शादी निखिल पवार की थी जोकि महाराष्ट्र के निवासी हैं। निखिल की दुल्हन स्लोवाकिया की यूनिका पोगरण थी। इन दोनों का सपना था कि ये लोग कुछ अलग तरीके से अपनी शादी करें। इसके बाद दोनों ने यह फैसला किया था कि दोनों अपनी शादी को समुद्र के पानी के अंदर रचाएंगे। इस शादी को लेकर भी लोग बहुत हैरान हुए थे।

हवा में शादी

यह अनोखी शादी अगस्‍त 2016 में हुई थी। विवाह स्थल था महाराष्ट्र का कोल्हापुर। असल में यहां के निवासी जयदीप जाधव माउंटेन ट्रेकिंग के काफी शौकीन थे। उन्होंने रेशमा पाटिल को 500 मीटर ऊंचाई पर लटक कर अपनी जीवन संगनी बनाया। इस शादी में पंडित जी ने हवा में लटक कर ही सभी मंत्र पढ़े।

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add