गैंग रेप मामले में हटाये गए CSP, 3 टीआई, 2 एसआई निलंबित…

187

भोपाल मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में छात्रा के साथ चार बदमाशों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने इसमें शामिल एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है और अन्य आरोपियों को भी जल्द पकडऩे का दावा किया है। शासकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) के सूत्रों ने आज बताया कि घटना 31 अक्टूबर शाम साढ़े सात से रात 10 बजे के बीच की है। छात्रा आईएएस परीक्षा की कोचिंग ले रही है। वह कोचिंग के लिए हबीबगंज स्टेशन के पास स्थित सरकारी आवास से एमपी नगर जाती थी।

सूत्रों के अनुसार छात्रा जब कोचिंग से लौट रही थी, तब हबीबगंज स्टेशन के आउटर पर पुलिया के पास उसे चार बदमाशों ने घेर लिया। उन्होंने पहले उसके साथ छेडख़ानी की और फिर पकड़कर नाले के पार जंगल में ले गए। वहां चारों ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़तिा के साथ मारपीट भी की गई। पीड़तिा के अनुसार आरोपी दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या भी करना चाहते थे। छात्रा के पिता रेलवे सुरक्षा बल में कार्यरत हैं। छात्रा ने रात में घर पहुंचकर घटना की जानकारी दी। दूसरे दिन उन्होंने थाने पहुंचकर मामला दर्ज कराया।

जीआरपी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि पीड़तिा कल रात आठ बजे परिजन के साथ जीआरपी थाने पर पहुंची। इसके बाद मामला दर्ज कर छानबीन शुरू की गई। एक आरोपी गोलू चिड़ार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। तीन अन्य आरोपियों को भी चिह्नित कर उन्हें भी पकड़ लिया गया है। जीआरपी के अनुसार आरोपी पन्नी बीनते हैं और हबीबगंज स्टेशन के आउटर पर बनी झुग्गियों में रहते हैं। घटना के समय वे रेल पटरी के किनारे जुआ खेल रहे थे।

वहीं वहीं इस मामलें को सीएम शिवराज ने नाराजगी जाहिर की है जिसके बाद तीन टीआई, दो एसआई निलंबित, एक सीएसपी को हटाया गया। शिवराज सिंह चौहान ने घटना को निंदनीय बताते हुए कहा कि घटना को चिन्हित अपराधों की श्रेणी में रखकर फास्ट ट्रैक कोर्ट में ट्रायल किया जाएगा।