तालाब में मछली पकडऩे फेंका जाल मछली की जगह फंस गई दो बाइक…

495

मुलमुला थानांतर्गत ग्राम पकरिया का मामला

कबाड़ी ने पुलिस से बचने चोरी की बाइक को छिपा दिया था तालाब में 

जांजगीर-चांपा (संजय यादव) तालाब में मछुआरों को मछली की जगह बाइक मिलने से सनसनी फैल गई। दरअसल मुलमुला थानांतर्गत ग्राम पचरी में मछुआरे शुक्रवार को मछली मारने जाल बिछाए थे। बड़ी खुशी के साथ वे जाल बिछाए थे। तालाब से जब जाल निकालने की बारी आई तब उन्हें छोटी तो नहीं बड़ी मछली के रूप में एक नहीं बल्कि बाईक के रुप मे दो दो बडी मछली मिल गई।  गांव में इस तरह का वाकया पहले बार देख लोगों के बीच कौतूहल का विषय बना हुआ है।

मुलमुला थानांतर्गत एक कबाड़ी की करतूतों का बड़ा रोचक मामला तब सामने आ गया जब गांव के मछुआरे तालाब में जब मछली मारने जाल बिछाए। जाल को निकालते वक्त वे तब गदगद हो गए जब उन्हें जाल में बड़ी मछली मिलने का अंदेशा हुआ। जब वे जाल को निकाले तब उन्हें बड़ी मछली की जगह दो बाइक हाथ लग गए। जाल में बाइक देख गांव में सनसनी फैल गई। मछुआरों की बातें सुन गांव में कौतूहल का विषय बन गया। तालाब में लोगों की भीड़ लग गई। तभी सबसे पहले गांव का कबाड़ी बसंत देवार मौके पर पहुंचा और बाइक को अपने सुपुर्द लेने के लिए जद्दोजहद करने लगा। तभी ग्रामीणों ने उक्त कबाड़ी से पूछताछ शुरू कर दी तब कबाड़ी ने ग्रामीणों से बताया कि वह बाइक को कुछ संदिग्ध लोगों से खरीदी किया है। कबाडिय़ों पर पुलिस की गिद्ध दृष्टि रहती है इस कारण वह चोरी की बाइक को अपने कब्जे में न रखकर सीधे तालाब में छिपा दिया था। फिलहाल गांव में लोगों की भीड़ जुटी हुई है। लोगों के बीच चर्चा का बाजार गर्म है।

बताया जा रहा है कि तालाब में जो बाइक मिली है उसमें एक चमचमाती है। वहीं दूसरी बाइक खटारा हो चुकी है। बताया जा रहा है कि जो बाइक तालाब में मिली है वह पूरी तरह चोरी की है। कबाड़ी पुलिस से बचने तालाब में फेंक दिया था। ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी है। पुलिस ने मामले की जांच करने की बात कही है।