Friday , October 20 2017
Home / breakings / आग से जली महिला की मौत.. भाई ने लगाया प्रताड़ना का आरोप…

आग से जली महिला की मौत.. भाई ने लगाया प्रताड़ना का आरोप…

अम्बिकापुर जिले के दरिमा थाना क्षेत्र के कंठी में रहने वाली 29 वर्षीय महिला धनेश्वरी की इलाज के दौरान मिशन अस्पताल में मौत हो गई.. आग से झुलस जाने के बाद महिला को उसके पति ने मेडिकल कालेज अस्पताल में मंगलवार को दाखिल कराया था जहाँ उसका उपचार किया जा रहा था लेकिन शाम तक स्थित में सुधार ना होने की वजह से महिला को मिशन अस्पताल रेफर कर दिया गया.. जहाँ रात करीब दस बजे उसकी मौत हो गई.. इस पूरे मामले में बड़ा पहलू यह रहा की दोपहर से शाम तक महिला का इलाज मेडिकल कालेज अस्पताल में चलता रहा लेकिन किसी ने भी मामले की जानकारी पुलिस को नहीं दी.. वही हर मामले में नियम कायदों की दुहाई देने वाले अस्पताल में भी महिला का इलाज किया गया लेकिन वहां से भी पुलिस को तब तक जानकारी नहीं दी गई जब तक महिला की मौत नहीं हुई थी… मौत होने के बाद पुलिस को जानकारी दी गई और पुलिस ने महिला के पति के बयान के आधार पर मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिए दोबारा मेडिकल कालेज अपस्ताल भेज दिया.. इस पूरे मामले में अगर पुलिस महिला के ज़िंदा रहते उसका बयान दर्ज करती तो शायद मामला कुछ और होता.. दरसल यह सवाल मृतिका के भाई खडा कर रहे है.. उनका कहना है की उनकी बहन की मौत स्वाभाविक आग लगने से नहीं हुई है.. उसे प्रताड़ित किया गया है या मारा गया है क्योकी उसके शरीर से केरोसीन की महक आ रही थी जबकी मृतिका के पति अंगद का कहना है की आग तो खाना बनाते वक्त चूल्हे से लगी लेकिन वह यह भी मान रहे है की केरोसीन तो महक रहा था पूछने पर कहा की शायद उसी ने डाला होगा… बहरहाल अब मृतिका के मायके वाले अपनी बेटी की मौत की जांच की मांग कर रहे है.. लेकिन अस्पताल के स्टाफ की लापरवाही की वजह से इस मामले की तफ्तीश में पुलिस का काम थोड़ा मुश्किल कर दिया है..

आपको बता दें की कल मंगलवार को फटाफट ने एक पोस्ट में महिला के शरीर से केरोसिन की महक आने के साथ कई संदेहो की ओर इशारा किया था.. और आज मृतिका के परिजन भी वही बात कह रहे है..जाहिर है की मामला सीधा तो नहीं है.. लेकिन दाल में क्या काला है इसकी जांच तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ही कर सकेगी..

कल इस सम्बन्ध में महिला धनेश्वरी उम्र 29 वर्ष के पति अंगद ने फटाफट से बताया था की वह दरिमा थाना क्षेत्र के कंठी में रहते है.. और आज दोपहर 12:30 बजे खाना बना रही थी तभी चूल्हे की आग से महिला की साडी में आग लग गई.. पति जब तक आकर देखा तो महिला के पूरे शरीर में आग लग चुकी थी.. जिसके बाद उसने कंबल से आग बुझाया और महिला को अस्पताल लेकर पहुंचे..

Check Also

इस दिवाली रात 10 के बाद आप नहीं कर सकेंगे आतिशबाजी… प्रशासन ने की अपील..

अम्बिकापुर जिला प्रशासन ने आज उच्च विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता आयोजित कर दीपावली पर्व …

Leave a Reply