जाने तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़ी मान्यताओं तथा हैंरान करने वाले रहस्यों को..

264
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

हमारे देश में बहुत से इतिहासिक और चमत्कारी मंदिर मौजूद है। इन्हीं में से एक हैं “तिरुपति बालाजी मंदिर“, यह मंदिर भारत का सबसे अमीर मंदिर माना जाता हैं। इस मंदिर पर बड़े-बड़े मंत्री, राजनेता, फ़िल्मी सितारे तथा उद्योगपति प्रतिवर्ष आकर माथा टेकते हैं। तिरुपति बालाजी मंदिर तिरुमाला की पहाड़ियों पर स्थित हैं। इस मंदिर से जुड़ी कई मान्यताएं तथा हैरतअंगेज रहस्य हैं। जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहें हैं। आइये जानते हैं क्या है इस मंदिर की धारणाएं तथा मान्यताएं।

1 – इस मंदिर के मुख्य दरवाज़े के दाई तरफ एक छड़ी रखी हुई हैं। माना जाता हैं इस छड़ी से ही बालाजी की बचपन में पिटाई हुई थी। आज भी वह छड़ी वहां मौजूद हैं।

2 – ऐसी मान्यता हैं कि बचपन में एक बार बालाजी की ठोड़ी से रक्त आ गया था। इसलिए उनकी प्रतिमा की ठोड़ी पर चंदन का लेप करने की परंपरा की शुरुआत हुई।

3 – कहा जाता हैं कि बालाजी के सिर के बाल रेशमी हैं और वे कभी भी नहीं उलझते।

4 – आपको बता दें कि तिरुपति बालाजी मंदिर के लिए 23 कि.मी दूर एक गांव में स्थित मंदिर से फूल लाये जाते हैं और उस गांव में कोई बाहरी व्यक्ति नहीं जा सकता हैं क्योकि उस गांव की महिलायें ब्लाउज नहीं पहनती हैं।

5 – वास्तव में बालाजी की प्रतिमा मंदिर के अंदर दायी और स्थापित हैं पर उसे देखने पर ऐसा लगता हैं मानो वह मंदिर के गर्भगृह के बीच में स्थापित है।

6 – बालाजी की प्रतिमा की पीठ पर यदि कोई अपना कान लगाता हैं तो उसको समुद्र की आवाज सुनाई पड़ती हैं इसके अलावा उनकी पीठ को चाहें कितनी बार साफ़ कर लिया जाएं पर उस बार बार नमी आ जाता हैं।

इस प्रकार से तिरुपति बालाजी मंदिर से जुड़े और भी कई रहस्य हैं जिनके बारे में आप वहां जाकर ही जान सकते हैं।

  • 10
    Shares
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add