35 सालों से सिर्फ 1 रूपए में गरीब लोगों को भोजन दे रहें हैं ये लोग

110
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add

आपने अम्मा थाली तथा दीन दयाल रसोई के बारे में तो पढ़ा ही होगा, पर मध्य प्रदेश में एक ऐसी संस्था भी है जो पिछले 35 वर्षों से गरीब लोगों को महज 1 रूपए में भोजन करा रही है। आज हम आपको जिस संस्था के बारे में बता रहें हैं वह कोई सरकारी संस्था नहीं है लेकिन फिर भी वह पिछले 35 वर्षों से गरीब लोगों को भोजन करा रही है।

आपको हम बता दें कि इस संस्था का नाम “सार्वजानिक सेवा समिति” है। यह संस्था मध्य प्रदेश के विदिशा में है। इस संस्था की शुरूआत असल में उस समय हुई थी जब आपातकाल देश में लगा हुआ था। उस समय कुछ लोग फल लेकर गरीब लोगों की बस्तियों में जाते थे। इसके बाद में 21 सितंबर 1983 को मारवाड़ी धर्मशाला के एक कमरे में भोजनालय बनाकर इस शुरूआत को आगे बढ़ाया गया।

यहां से गरीब तथा मरीज लोगों को महज एक रूपए में ही भोजन दिया जाता था। बाद में यह सेवा मात्र अस्पताल के रोगियों के लिए ही सुरक्षित कर दी गई। कुछ समय बाद प्रशासन की मदद से जिला अस्पताल के परिसर ने संस्था ने अपना भोजनालय खोल लिया और यहीं से मरीज लोगों तथा उनके परिजनों को भोजन वितरित करने का कार्य शुरू हो गया। आपको हम बता दें कि इस वर्ष इस संस्था को 35 वर्ष पूरे हो गए हैं।

इस संस्था के संस्थापक अध्यक्ष रहे रामेश्वर दयाल बंसल कहते हैं कि “एक थाली पर कम से कम 12 से 13 रूपए का खर्च आता है पर हम उसको महज एक ही रूपए में देते हैं। बहुत से लोग अपने प्रियजनों की याद में लोगों को भोजन कराने हेतू पैसे देते हैं और कई लोग जन्मदिन आदि अवसरों पर भी संस्था को पैसे देते हैं। इन सभी का पैसा लोगों को भोजन कराने में लगा दिया जाता है। इस संस्था को जब शुरू किया गया था, तब हमारे पास महज 3 हजार रूपए थे, पर अब संस्था के पास 35 लाख रूपए की धनराशि है।”, इस प्रकार से देखा जाए तो लोगों और समाज की भलाई के लिए शुरू किया गया यह कार्य प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add