Sunday , January 21 2018
Home / breakings / योगी ने बदल दिया सूबे का पुलिस कप्तान..2.3 एकड़ जमीन और 3 कमरों के मालिक है नये DGP

योगी ने बदल दिया सूबे का पुलिस कप्तान..2.3 एकड़ जमीन और 3 कमरों के मालिक है नये DGP

लखनऊ

 

उत्तरप्रदेश मे योगी सरकार बनने के बाद जो अटकले लगाई जा रही थी , उसमे आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विराम लगा दिया । योगी ने अखिलेश सरकार के डीजीपी जावीद अहमद को हटा कर उनकी जगह पर साफ सुथरी छवि वाले सुलखान सिंह को नया डीजीपी बना दिया है।  इसके अलावा सरकार ने कुछ महत्वपूर्ण फेरबदल करते हुए 12 और आईपीएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है।

गौरतलब है कि जावीद अहमद को समाजवादी सरकार के कार्यकाल में उत्तर प्रदेश का डीजीपी बनाया गया था, लेकिन अब उनको हटाकर 1980 बैच के आईपीएस सुलखान सिंह को उत्तरप्रदेश पुलिस की कमान सौंप दी गई है। इसके साथ ही राज्य के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी का भी ट्रांसफर कर दिया गया है। जावीद अहमद को डीजी पीएससी बनाया गया है वहीं दलजीत चौधरी की जगह आदित्य मिश्रा को नया एडीजी लॉ एंड ऑर्डर बनाया गया है। शुक्रवार शाम योगी सरकार ने सात आईएएस व 12 पीसीएस अफसरों के तबादले कर दिए। एसवीएस रंगाराव को देवीपाटन का मंडालयुक्त बनया गया है। जबकि अजय कुमार शुक्ला को चित्रकूट का मंडलायुक्त बनाया गया है।

 

नौकरी की शुरुआत से बच्चे बच्चे की जुबान पर इनका नाम है –

1983-84 में बनारस शहर में जब सुलखान सिंह को बनारस का एडिशनल एसपी बनाया गया तो बच्चे बच्चे की जुबान पर उनका नाम था । काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में छात्र आन्दोलन चरम पर था वहीँ देश खालिस्तान आन्दोलन की आग में जल रहा था जिसकी चिंगारी हर तरफ महसूस की जा रही थी उन्ही सुलखान सिंह को उत्तर प्रदेश का नया डीजीपी बनाया गया है ।  पुलिस मैडल और राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित सुलखान सिंह 1980 बैच के आईपीएस है। वाराणसी के बाद ही सुलखान सिंह को लखनऊ में बतौर एसपी पहली पोस्टिंग मिली थी सुलखान सिंह 1997 के दौरान क्रमशः मिर्जापुर और इलाहबाद में डीआईजी भी रहे हैं हांलाकि उनका यह कार्यकाल बेहद छोटा रहा है। यूपी पुलिस के बेहद ईमानदार अधिकारियों में से एक सुलखान सिंह ने प्रदेश पुलिस में भ्रष्टाचार के कई गंभीर मामलों की जांच की है।

उत्तर प्रदेश के नए डीजीपी के कद का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उनके पास अचल संपत्तियों के नाम पर केवल तीन कमरे का एक घर और थोड़ी सी खेती की जमीन है । लखनऊ स्थित अलकनंदा एपार्टमेंट में अपना घर उन्होंने लखनऊ डेवलपमेंट अथारिटी से किस्तों में लिया था लखनऊ स्थित अलकनंदा एपार्टमेंट मेंमूल रूप से बांदा जिले के रहने वाले सुलखान सिंह के पास 2.3 एकड़ जमीन है जो उन्होंने बांदा के जोहरपुर गाँव में 40 हजार रुपयों में खरीदी थी आज जमीन की कीमत केवल 3 लाख रूपए है लखनऊ स्थित अलकनंदा एपार्टमेंट में

Check Also

AAP पर संकट : राष्ट्रपति के फैसले के खिलाफ आम आदमी पार्टी जाएगी कोर्ट..!

आम आदमी पार्टी के 20 विधायक अयोग्य करार दिए गए है। लाभ के पद (ऑफिस …

Leave a Reply