जब गुलाबी गैंग, महिला कमाण्डो और भारतमाता वाहिनी की तारीफ करने बाद सीएम ने मंच पर थानेदार को बुलाया तब……..

121
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add
  • मुख्यमंत्री ने कहा: गद्दीदार और कोचिए अब नजर नहीं आएंगे 
  • लोक सुराज अभियान के तहत समाधान शिविर में जनता को सम्बोधित कर रहे थे सीएम 

बालोद

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा है कि राज्य में गद्दीदार और कोचिया अब नजर नहीं आएंगे। शराब के अवैध कारोबार पर कठोर अंकुश लगाया गया है। अगर कहीं ऐसे लोग अवैध रूप से शराब बेचते पाए गए, तो उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री आज बालोद जिले के ग्राम गब्दी (विकासखंड-गुण्डरदेही) में लोक सुराज अभियान के तहत समाधान शिविर में जनता को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर वहां हजारों की संख्या में मौजूद गुलाबी गैंग, महिला कमाण्डो और भारतमाता वाहिनी की सदस्य महिलाएं भी मौजूद थीं।

मुख्यमंत्री ने उनकी प्रशंसा करते हुए कहा कि बालोद जिले में हमारी इन माताओं और बहनों ने अवैध शराब के खिलाफ जो अभियान चलाया है, वह प्रदेश के अन्य क्षेत्रों के लिए भी अनुकरणीय है। उन्होंने कहा – राज्य सरकार ने चरणबद्ध ढंग से शराबबंदी के लक्ष्य की ओर तेजी से आगे बढ़ रही है। पहले चरण में तीन हजार से कम आबादी वाले गांवों में शराब के ठेके बंद कर दिए गए हैं। डॉ. सिंह ने महिला कमाण्डो और भारतमाता वाहिनी की महिलाओं से आग्रह किया कि वे अगर कहीं अवैध कारोबार में लिप्त कोचियों को देखें या कोचियों के बारे में जानकारी मिले, तो तत्काल अपने निकटवर्ती पुलिस थाने को सूचित करें।

सीएम ने थानेदार का मंच पर बुलाया 

मुख्यमंत्री ने शिविर में क्षेत्र के थानेदार को मंच पर बुलाया और उनसे जनता के बीच यह ऐलान करने के लिए कहा कि इस इलाके में अवैध शराब के कारोबार पर पूर्ण रूप से नियंत्रण कर लिय गया है कोचिए अब इस क्षेत्र में नहीं हैं। मुख्यमंत्री ने पुलिस और आबकारी अधिकारियों को इस दिशा में लगातार निगाह रखने के निर्देश दिए। समाधानर शिविर की विशाल जनसभा में मुख्यमंत्री ने ग्राम गब्दी की पेयजल आवर्धन योजना के पाइप लाईन विस्तार के लिए बीस लाख रूपए, तालाब सौन्दर्यीकरण के लिए दस लाख रूपए और सीमेंट कांक्रीट सड़क निर्माण के लिए भी दस लाख रूपए तत्काल मंजूर करने की घोषणा की। उन्होंने वहां आयुर्वेदिक औषधालय और उचित मूल्य की दुकान का भी निरीक्षण किया।

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add