सरगुजा पैलेस में हुआ शस्त्र पूजन..लोगो की उमड़ी भीड़..

638

अम्बिकापुर

देश दीपक “सचिन”  

सरगुजा पैलेस में दशहरा के मौके पर राजपरिवार के द्वारा शस्त्र पूजन किया गया। नेता प्रतिपक्ष टी एस सिंह देव ने शस्त्र पूजन किया और सभी को दशहरे की शुभकामनाये दी। उन्होंने बताया की रियासत काल में लोग दशहरे के दिन अपने राजा से मिलने भी आते थे और पैलेस की विभिन्न पूजा पाठ में भाग लेते थे वैसे ही आज भी लोगो के द्वारा उस परम्परा को जीवित रखा गया है। विजयादशमी के दिन सरगुजा के लोगो की पारंपरिक भावनाए त्यौहार से जुडी हुई है यही कारण है की सरगुजा में दशहरे में विशेष धूम रहती है। इस अवसर पर सरगुजा पैलेस में विभिन्न तरीको से अलग अलग पूजन किया जाता है।

इन्होने बताया की दशहरा के दिन इस प्रथा बचपन से उन्होंने अपने घर में देखा है की महाराजा साहब के समय में शस्त्र पूजन, द्वार पूजन, नगाड़ा पूजन,जिसमे कुछ पूजाओ को ब्राम्हण करते है तो कुछ पूजा को आदिवासी भाई बैगा समाज के लोग करते आ रहे है। इन्होने शस्त्र पूजन का अर्थ क्षेत्र की सुरक्षा से बताया की शस्त्र पूजन करने से लोगो को सुरक्षा का सन्देश मिलता है। बहरहाल सरगुजा में रियासत कला से ही दशहरे को धूम धाम से मानाने की प्रथा रही है। जहां एक और असत्य पर सत्य की विजय के प्रतीक के रूप में रावण दहन कर दशहरा मनाया जाता है वही दूसरी और सरगुजा के लोगो की इस त्यौहार में आस्था सरगुजा पैलेस में भी देखी गई है। इस दिन लोग अपने राजा के दर्शन को भी महत्वपूर्ण मानते है