Monday , January 22 2018
Home / breakings / दिलेर कलेक्टर की दरियादिली..दरिया पार कर पहुंची गांव… 

दिलेर कलेक्टर की दरियादिली..दरिया पार कर पहुंची गांव… 

प्रदेश के कलेक्टरों के लिए बनी मिशाल

वादा निभाने पहुची घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र

ओवरफ्लो एनीकट पार कर पहुची गांव

समाचार के नीचे देखिए कलेक्टर के नदी पार करने के कुछ रोचक फोटोग्राफ

रायपुर/कांकेर

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले की महिला कलेक्टर शम्मी आबीदी ने वो कर दिखाया जो आम तौर पर कोई भी कलेक्टर करने का साहस नहीं करता है । दरअसल कलेक्टर शम्मी आबीदी जिले के नक्सल प्रभावित दुर्गूकोन्दल विकासखण्ड के कोडेकुर्से गाँव जाना था लेकिन कलेक्टर के दौरे के समय रास्ते में पड़ने वाली नदी का पानी उफान पर था,लिहाजा कलेक्टर पैदल ही नदी पार करने का मन बना लिया क्योकि कलेक्टर शम्मी आबीदी के मुताबिक़ उन्होंने गांव वालों से उनके गाँव आने का वादा किया था, इसलिए एनीकेट में बहते पानी को पार कर गाँव पहुच गई।

पंद्रह साल बाद पंहुचा कोई कलेक्टर

गौरतलब है की इस गाव में शम्मी आबीदी के पहले 2001 में यानी 15 साल पहले इस गाँव में कलेक्टर का दौरा हुआ था। इस बीच किसी ने भी यहां के ग्रामीणों की सुध नहीं ली थी लेकिन कलेक्टर शम्मी आबीदी के वहा पहुचने के बाद गांव के लोगो के चेहरों की रंगत बदल गई और लोगो ने पन्द्रह साल बाद अपने गाव में किसी कलेक्टर को देखा, इधर गाँव में पहुंचकर कलेक्टर, ने गंभीरता से लोगों की समस्याओं का मौके पर ही निराकरण किया और अधिकारियों को तत्क़ाल उस पर अमल करने का आदेश दिया। कलेक्टर जिस गाँव में लोगों की समस्या सुनने पहुंची थीं वो अतिसंवेदनशील नक्सल प्रभावित इलाका है। बहरहाल ग्रामीणों से किये गए वादे को निभाने कलेक्टर ने जान जोखिम में डाल अपना वादा निभाना वाजिफ समझा ।

देखिए एनीकट पार करती कलेक्टर की कुछ फोटो

Check Also

AAP पर संकट : राष्ट्रपति के फैसले के खिलाफ आम आदमी पार्टी जाएगी कोर्ट..!

आम आदमी पार्टी के 20 विधायक अयोग्य करार दिए गए है। लाभ के पद (ऑफिस …

Leave a Reply