रायपुर : मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना : चौथे चरण में राज्य के तेरह हजार बुजुर्ग करेंगे तीर्थ यात्रा

242
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add


रायपुर, 26 दिसम्बर 2013

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री तीर्थयात्रा योजना के तहत वर्ष 2013-14 में चौथे चरण के अंतर्गत 14 यात्राओं में चौदह हजार यात्री देश के प्रमुख तीर्थ स्थलों की यात्रा करेंगे। योजना के तहत प्रत्येक यात्रा में यात्रियों की संख्या एक हजार निर्धारित की गई है। समाज कल्याण संचालनालय द्वारा राज्य के सभी जिला कलेक्टरों को इस यात्रा कार्यक्रम की जानकारी प्रेषित कर दी गई है। योजना के तहत 15 जनवरी 2013 से शुरू यात्राओं में अब तक 62 हजार से अधिक यात्री विभिन्न तीर्थों की यात्रा कर चुके हैं।

 

यात्रा कार्यक्रम के अनुसार पुरी, भुवनेश्वर की चार दिवसीय यात्रा के लिए जांजगीर-चांपा जिले के 566 तथा कोरबा जिले के 434 तीर्थयात्री आगामी तीन जनवरी को कोरबा से प्रस्थान करेंगे। इसी तरह राजनांदगांव जिले के 687 और कबीरधाम जिले के 313 यात्री मथुरा, वृन्दावन की चार दिवसीय यात्रा के लिए नौ जनवरी को राजनांदगांव से, नारायणपुर जिले के 89, कोण्डागांव जिले के 379 और उत्तर बस्तर जिले के ( कांकेर ) 532 यात्री हरिद्वार, ऋषिकेश की पांच दिवसीय यात्रा के लिए 15 जनवरी को रायपुर से, रायगढ़ जिले के 630 और जशपुर जिले के 370 यात्री प्रयाग, काशी की पांच दिवसीय यात्रा के लिए 22 जनवरी को रायगढ़ से, कोरिया जिले के 229, सूरजपुर जिले के 252, बलरामपुर जिले के 230 और सरगुजा जिले के 289 यात्री 29 जनवरी को प्रयाग, काशी की पांच दिवसीय यात्रा के लिए अंबिकापुर ( अन्य बोर्डिंग स्टेशन-सूरजपुर, बैकुण्ठपुर) से, बिलासपुर जिले के 766 और मुंगेली जिले के 234 यात्री उज्जैन, आंेकारेश्वर की चार दिवसीय यात्रा के लिए 5 फरवरी को बिलासपुर से, महासमुंद जिले के 414, गरियाबंद जिले के 246 और धमतरी जिले के 340 यात्री शिरडी, शनिसिंगनापुर और त्रयम्बकेश्वर की चार दिवसीय यात्रा के लिए 11 फरवरी को रायपुर से, रायपुर जिले के 653 और बलौदाबाजार जिले के 347 यात्री मथुरा, वृन्दावन की चार दिवसीय यात्रा के लिए 17 फरवरी को रायपुर से रवाना होंगे।

 

कार्यक्रम के अनुसार दुर्ग जिले के 571, बेमेतरा जिले के 188 और बालोद जिले के 241 यात्री प्रयाग, काशी की पांच दिवसीय यात्रा के लिए 22 फरवरी को दुर्ग से, नारायणपुर जिले के 89, कोण्डागांव जिले के 379 और उत्तर बस्तर (कांकेर) के 532 यात्री उज्जैन, आंेकारेश्वर की चार दिवसीय यात्रा के लिए एक मार्च को रायपुर से, जांजगीर-चाम्पा जिले के 566 और कोरबा जिले के 434 यात्री बैजनाथ धाम की तीन दिवसीय यात्रा के लिए सात मार्च को कोरबा (अन्य बोर्डिंग स्टेशन चाम्पा) से, बस्तर जिले के 505, दक्षिण बस्तर (दंतेवाड़ा) जिले के 170, बीजापुर जिले के 166 और सुकमा जिले के 159 यात्री मथुरा, वृन्दावन की चार दिवसीय यात्रा के लिए 12 मार्च को रायपुर से, दुर्ग जिले के 571, बेमेतरा जिले के 188 और बालोद जिले के 241 तीर्थ यात्री शिरडी, शनिसिंगनापुर और त्रयम्बकेश्वर की चार दिवसीय यात्रा के लिए  19 मार्च को दुर्ग से, राजनांदगांव जिले के 687 तथा कबीरधाम जिले के 313 यात्री तिरूपति, मदुरै और रामेश्वरम की आठ दिवसीय यात्रा के लिए राजनांदगांव से रवाना होंगे। उल्लेखनीय है कि राज्य के 60 वर्ष या अधिक आयु वर्ग के वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा के लिए शासकीय सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से राज्य शासन के समाज कल्याण विभाग द्वारा प्रदेश में छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना संचालित की जा रही है।

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add