सड़क मार्ग को पुनः निर्माण ; ग्रामवासियों को राहत

110

सुकमा 

शासन की विभिन्न योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाना शासन का ध्येय है, इसी प्रयास में शासन-प्रशासन प्रयासरत रहते हैं, किन्तु सुकमा जैसे अति संवदेनशील क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा हमेशा प्रशासन व पुलिस के समक्ष चुनौतियां खड़ी की जाती हैं, जैसे कि सड़क मार्ग को खोद देना, अधिकारी कर्मचारी को ग्रामीण क्षेत्र में दौरा करने से मना करना, शासकीय अमला को मारने की धमकी देना आदि से क्षेत्र में भय उत्पन्न कर सरकारी योजनाओं को जमीनी स्तर पर लागू नहीं करने देना।

कुछ दिनों पूर्व नक्सलियों ने ग्राम मिसमा से बगडे़ ग्राम के मध्य सड़क को खोद दिया। जिसके कारण ग्राम बगड़े के ग्रामीणों को आवागमन में असुविधा हो रही थी। साथ ही राशन सामग्री जो कि खाद्य विभाग द्वारा ग्राम बगड़े के उचित मूल्य की दुकान तक नहीं पहुंचाना था, वो नहीं पहुंच पाया। प्रशासन को जब इसकी जानकारी प्राप्त हुई तो ग्रामीण यांत्रिकी विभाग द्वारा सुरक्षा बलों की सुरक्षा में एक सप्ताह में सड़क को पुनः बनाया गया। जिससे आवागमन बहाल हुआ तथा राशन सहित अन्य ज़रूरी समान ग्राम वासि को प्राप्त हो सका हैं एक बार फिर नक्सलियों की मंशा को चोट कर प्रशासन ने दिया ग्राम वासियों को राहत।
ग्रामीणों ने बताया कि नक्सलियों द्वारा सड़क मार्ग और पुलिया को काटने से हमें आने-जाने की असुविधा हो रही थी तथा ग्राम में राशन सामग्री प्राप्त नहीं हो पा रहा था। जिला प्रशासन द्वारा सड़क बाधा की सूचना प्राप्त होने पर ग्रामीण यांत्रिकी विभाग के द्वारा सुरक्षा बलों के सुरक्षा में सड़क का पुनः निर्माण करवाया गया। इसके लिए शासन-प्रशासन को ग्रामीणों ने आभार माना।