प्राकृतिक आपदाओं से पीड़ित परिवारों को मिली 56 लाख रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति

154

जगदलपुर
बस्तर कलेक्टर श्री अमित कटारिया द्वारा राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के संशोधित प्रावधानों के अंतर्गत प्रदत्त अधिकारों का प्रयोग करते हुए प्राकृतिक आपदाओं और दुर्घटनाओं के कारण 14 पीड़ित परिवारों को 56 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। इसके अंतर्गत बकावण्ड तहसील ग्राम मसगांव के श्री शंकर की मृत्यु कुंआ में डूबने से होने से उनकी नानी श्रीमती रतनी को, बस्तर तहसील के ग्राम छुरावण्ड के श्री रूपेन्द्र कोर्राम की मृत्यु तालाब में डूबने से पिता श्री रानूराम कोर्राम को, तोकापाल तहसील अंतर्गत ग्राम कुरूषपाल की श्रीमती फूलमती की मृत्यु सर्पदंश से होने के कारण पति श्री दुलारराम को, लोहण्डीगुड़ा तहसील अंतर्गत ग्राम कोड़ेबेड़ा की कु. दीपिका कश्यप की मृत्यु सर्पदंश से होने के कारण पिता श्री बलीराम कश्यप को, जगदलपुर तहसील अंतर्गत ग्राम घाटपदमूर की सोनमती की मृत्यु इन्द्रावती नदी में डूबने से पुत्र श्री रूपा को, ग्राम बैंगलूर निवासी जलंधर की मृत्यु तालाब में डूबने से पिता श्री बलीचंद्र को, ग्राम बालीकोंटा के श्री महेश्वर की मृत्यु गाज गिरने से होने के कारण माता श्रीमती सोरादई को 4-4 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। इसी तरह तोकापाल तहसील के ग्राम डोंगरीगुड़ा निवासी श्री भदरू की मृत्यु तालाब मंे डूबने से पुत्र श्री सोमारू को, बकावण्ड तहसील के ग्राम छोटेदेवड़ा के समलसाय की मृत्यु गाज गिरने से पत्नि श्रीमती बालमती को, बस्तर तहसील के ग्राम छुरावण्ड के श्री सुकदेव की मृत्यु कोसारटेडा बांध में डूबने के कारण पिता श्री सोनसिंह को, ग्राम झारतरई के श्री पीलूराम की मृत्यु गाज गिरने से पत्नी श्रीमती गुरवारी को, ग्राम धोबीगुड़ा के श्री गणेश की मृत्यु सर्पदंश से होने के कारण पिता श्री शिवनाथ को, बास्तानार तहसील के श्रीमती पायके की मृत्यु सर्पदंश से होने के कारण पुत्र श्री गणेश गावड़े और लोहण्डीगुड़ा तहसील के ग्राम उसरीबेड़ा निवासी श्री बुधरूराम की मृत्यु तालाब के डूबने से उनकी पत्नी श्रीमती लछनीबाई को इस तरह प्रत्येक परिवार को 4-4 लाख रूपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है।