अपनी छुट्टियों को बनाना चाहते है यादगार तो ‘मदिकेरी’ से बेहतर कोई जगह नहीं

110
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add
 
इलाइची, काली मिर्च, शहद और फूलों की खुशबू वाला शहर मदिकेरी कर्नाटक के कूर्ग जिले में है। जिसकी ऊंचाई समुद्र तल से 1525 मीटर है। दैनिक भास्कर की खबर के अनुसार, यहां की पहाड़ियां, ठंडी हवाएं, हरे जंगल, कॉफी के बागान मदिकेरी का अट्रैक्शन हैं। यह साउथ इंडिया का एक खूबसूरत हिल स्टेशनों में से एक है। मदिकेरी को मडिकेरी, मधुकेरी और मरकरा के नाम से भी जाना जाता है।
 दुनिया के 7 पर्यटन स्थल, जहां आप हमेशा जाना पसंद करेंगें
मदिकेरी किला
किले के भीतर महल बना है। अंदर स्थित वीरभद्र मंदिर को अंग्रेजों ने तुड़वा दिया था और इसकी जगह चर्च बना दिया था। फिलहाल इस चर्च की जगह एक म्यूजियम खड़ा है। 1933 में यहां क्लॉक टॉवर और पोर्टिको बनाया गया था।
अब्बे झरना
यह झरना शहर से 7-8 किमी की दूरी पर स्थित है। यहां एक संकरा सा रास्ता है, जिससे गुजरकर सैलानी कॉफी के बागानों तक पहुंच सकते हैं और मसालों के एस्टेट भी देख सकते हैं। 50 फीट की ऊंचाई से गिरते पानी को देखना मन को खुश कर देता है।
राजा की सीट
यहां से राजा सूरज को उगते व डूबते देखा करते थे और इस पॉइंट को साउथ का बेस्ट व्यू पॉइंट माना जाता है। यहां से ऊंचे पहाड़, हरी-भरी वादियां, चावल के खेत के जबर्दस्त नजारे दिखते हैं। यहां से मैंगलोर की सड़क का नजारा वैली में घुमावदार रिबन की तरह सबसे अद्भुत दिखता है।
इस एरिया का लगभग 33 प्रतिशत हिस्सा जंगल से घिरा है। इन राहों से गुजरते हुए आपका सामना अचानक ही जंगली जानवरों से भी हो सकता है। यहां से महज 80 किलोमीटर की दूरी पर नागरहोल वाइल्डलाइफ सेंचुरी है, जहां फ्लोरा और फॉना की खासी वैराइटी देखी जा सकती है।
 यहां से होते हैं स्वर्ग के दर्शन, जानिए कैसे पहुंचें स्वर्ग के द्वार
नागरहोल के अलावा तालकावेरी, पुष्पागिरि और ब्रह्मागिरी की छोटी लेकिन पक्षियों व जानवरों से भरी सेंचुरियां भी देख सकते हैं। ये सभी मदिकेरी से 75 किलोमीटर की रेंज में हैं। यहां पर एक दिन में जाकर वापस आया जा सकता है। अक्टूबर से अप्रैल के बीच का टाइम यहां जाने के लिए बेस्ट है। इस दौरान आप बेहतरीन मौसम में जमकर घुमक्कड़ी और दूसरी एक्टिविटीज इंजॉय कर सकते हैं।
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add