सिलफिली बन गई प्रदेश का पहली और देश का दूसरी पूर्ण डिजिटल पंचायत

330

देश देख रहा डिजिटल बनने का सपना….. लेकिन सिलफिली नें मारी बाजी

अम्बिकापुर

मोदी सरकार का विजन डिजिटल का सपना भले ही देश के बडे बडे शहरो में ठंडे बस्ते में पडा हो लेकिन छत्तीसगढ के सिलफिली ग्राम पंचायत के लोगो का ये सपना आज से पूरा हो गया। गांव के आईटी प्रोफेशनल युवा और सरंपच की बडी सोंच का नतीजा है कि गुजरात के पंसारी गांव के बाद छत्तीसगढ का सिलफिली ग्राम पंचायत देश का दूसरा और प्रदेश का पहला पूर्ण डिजिटल गांव बन गया है।  आज प्रदेश के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा और सासंद कमलभान सिंह ने गाँव की वेबसाइट और फ्री वाईफाई जोन का उद्घाटन किया। इस दौरान काफी संख्या मे ग्रामवासी और गणमान्य नागरिक मौजूद था।silfili 4

सिलफिली ग्राम पंचायत के लिए बुधवार 4 नवंबर का दिन इतिहास के उन सुनहरे पन्नो में दर्ज हो गया। जिसको यंहा की युवा पीढी कई वर्ष तक याद रखेगी। दरअसल आज सिलफिली गांव छत्तीसगढ का पहला डिजिटल गांव बनने का साकार कर चुका है। सिलफिली ग्राम पंचायत में बुधवार से फ्री वाईफाई जोन के साथ ग्राम पंचायत की आफिशियल वेबसाईट का शुभारंभ किया। साथ ही आज से सिफलिली पंचायत खुले में शौंच से मुक्त गांव बन गया है। इस मौके पर प्रदेश के गृहमंत्री रामसेवक पैकरा, सरगुजा सासंद कमलभान सिंह , भटगांव विधायक पारस राजवाडे और पूर्व विधायक रजनी रविशंकर त्रिपाठी मौजूद रही ।

छत्तीसगढ का सिललफिली गांव अब फ्री वाई फाई जोन के रुप में स्थापित हो गया है । गांव के आईटी प्रोफेशनल युवक राजेश कुशवाहा की दृढ इच्छा शक्ति और गांव के युवाओ के उत्साहवर्धन से गांव में उस सुविधा की शुरुआत कर दी गई है… जिस सुविधा के लिए अभी तक कई बडे शहर और महानगर केवल सपने देख रहे है। दरअसल गांव के सरंपच संजय सिंह नेटी नें पंचायत चुनाव में एक अपने घोषणा पत्र में लोगो को कई सुविधा देने का आश्वासन दिया था। और अब जब संजय सिंह चुनाव जीत गए … तो लोगो से किए वादो को पूरा करने के लिए उन्होने काम शुरु कर दिया है। जिसके तहत गांव के सरंपच नें गांव के ही युवा आईटी प्रोफेसनल राजेश कुशवाहा की मदद से आज गांव में वाईफाई सुविधा के साथ सिलफिली गांव की आफिशियल वेबसाईट भी लांच की। गौरतलब है कि राजेश इससे पहले भी बलरामपुर जिले की आफिशियल वेबसाईट भी बना चुके है।

इधर फ्री वाईफाई के शुभारंभ के बाद उपस्थित अतिथी मंत्री रामसेवक पैकरा और सांसद कमलभान सिंह नें मंच से कई लोगो को फ्रीवाईफाई के लिए सांकेतिक रुप से टोकन भी प्रदान किए। जिसमे वाईफाई के लिए जरुरी पासवर्ड था। इस कडी में ईटीव्ही संवादाता अमितेष पाण्डेय, आईबीसी24 के रिपोर्टर मनोज सिंह ,पत्रिका के ब्यूरो प्रमुख प्रणयराज सिंहराणा , टीआई जयनगर हरविन्दर सिंह समेत गांव के कई लोगो को मंच के माध्यम से फ्री वाईफाई जोन का वो टोकन प्रदान किया गया। जिसमे वाईफाई का पासवर्ड था। हांलाकि कार्यक्रम के बाद गांव के दर्जनो रहवासियो को ये टोकन प्रदान किया गया।

करना पडा कई चुनौतियो का सामना

गांव के सरंपच संजय सिंह और साधारण गांव को डिजिटल गांव का रुप देने वाले युवा राजेश की माने तो पंचायत वासियो से इस सपने को पूरा करने उन्हे कई चुनौतियो का सामना करना पडा ,, लेकिन गांव के युवाओ की प्रोत्साहन और बडे के आशिर्वाद से हमनें सपने को अपना बना लिया। और गांव के सरपंच और कुछ लोगो के आर्थिक मदद के साथ पंचायत की आय के छोटे हिस्से के योगदान से पंचायत को डिजिटल बनाने की सपना पूरा किया। हांलाकि आर्थिक परिस्थियो से कमजोर और प्रशासन से कोई मदद ना मिलने के कारण ये एक चुनौती भरा काम था।

सिलिफिली फ्री वाईफाई हाटस्पाट का उपयोगsilfili 3

ग्राम पंचायत के युवाओ ,छात्रो और जरुरतमंदो को फ्री वाईफाई का इस्तेमाल करने के लिए पंचायत कार्यालय से यूजर पासवर्ड दिया जाएगा। जिसके बाद पंचायत के लोग फ्री वाई फाई लुफ्त उठा सकेगे। मतलब पंचायत की ओर से मुहैया कराए जाने वाली फ्री वाईफाई इंटरनेट का अनावश्यक इस्तेमाल से बचने के लिए भी सटीक व्यवस्था की गई है। गांव के सरपंच संजय सिंह नेटी और इस सुविधा से लोगो को जोडने वाले युवा राजेश के मुताबिक इस सुविधा के बाद गांव के युवा आनलाईन टिकट बुकिंग, स्कूल कालेजो के नतीजे , देश विदेश की रोचक जानकारिया और समाचार के एकदम करीब होगें । साथ ही गांव की वेबसाईट में पंचायत में प्रभावी योजनाओ के आवेदन और लाभ आन लाईन मिल सकेंगे।

अब एयरपोर्ट जैसा डिजिटलाईजेशन का सपना

सिलफिली ग्राम पंचायत देश का दूसरा और प्रदेश का पहला ऐसा गांव बन गया है.. जिसकी खुद की वेबसाईट होगी और गांव के हर कोने में वाई फाई सुविधा मिलेगी। लेकिन गांव के लोग इसे किसी एयरपोर्ट में मिलने वाली वाई फाई सुविधा और डिजिटल व्यवस्थाओ के सुशज्जित करना चाहते है। लेकिन गांव के सरपंच संजय सिंह के मुताबिक अगर शासन प्रशासन से उनको मात्र एक लाख रुपए की आर्थिक मदद मिल जाए तो ग्राम पंचायत को एयरपोर्ट जैसा डिजिटल सुविधा देने में मदद मिलेगी ।

खुले में शौंच से मुक्त गांव भी मिला तमगा

केन्द्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना स्वस्छ भारत अभियान के तहत देश भर में चलाई जा रही योजना के तहत सिलफिल ग्राम पंचायत आज से खुले में शौच मुक्त गांव भी बन गया है। मतलब कि गांव के घर घर में शौचालय का निर्माण कर ग्राम पंचायत नें इस अभियान में बाजी मार ली है। ,,,,,,,,,,,,,,

ग्राम पंचायत सिलफिली के सरपंच संजय सिंह नेटी, पारितोष बैरागी, धन्नंजय कुशवाहा, पवन वर्मन , संजय दास , धीरज विश्वास , शिव नारायण सिंह, अनिल विश्वकर्मा, चंद्रमढी सिंह, रंजन दास ,दशरथ सिंह , विनय बछाड, बल्लु कुशवाहा, पिंटू विश्वास, राजा सरकार, नारायण सरकार, द्वारिका कुशवाहा, अनिरुद्द राय , अमर कुशवाहा, अजय कुशवाहा समेत सिलफिली, कमलपुर,गणेशपुर,कनकपुर, समेत आसपास कई गांवो के लोग इस मौके में सरीक।