लूट के आरोपी पकडे नही गए थे… तो होगा चक्काजाम

33
Hader add
Hader add
Hader add
Hader add
  • व्यवसायियों के दिलो दिमांग पर छाई दहशत
  • लुटेरों के निशाने पर व्यवसायी ,सुरक्षा को लेकर हुए चिंतित

अम्बिकापुर

नगर में बीती रात एक आलू व्यवसायी के साथ अज्ञात लुटेरों द्वारा लूट की कोशिश व फायरिंग करने की घटना के बाद व्यवसायी दहशत में है। घटना रिलायंस पेट्रोल पंप के बगल में नेता प्रतिपक्ष टी.एस सिंह देव के निवास के सामने स्थित श्याम आलू भंडार के व्यवसायी के साथ हुई । नगर का व्यवसायिक मार्ग अग्रसेन चैक से लेकर खरसियां चैक के बीच लगातार हथियार से लैस लूटेरों के द्वारा यह तीसरी घटना से व्यवसायी अपनी सुरक्षा को लेकर बेहद चिंतित है। बीती रात लूटेरों के मंसूबे को व्यवसायी ने अपने हौसले से असफल कर दिया था । शहर में इस प्रकार हथियार के नोंक पर लूट का प्रयास होने से तरह – तरह की चर्चाए व्याप्त है। आज घटना के दूसरे दिन कोतवाली पुलिस ने घटना स्थल जाकर प्रत्यक्ष दर्शियों से पूछताछ की । फिलहाल अभी तक व्यवसायी पर फायरिंग करने वाले व लूट का प्रयास करने वाले लोगो का कोई पता नहीं चल सका है।

ज्ञात हो कि बीती रात रिलायंसambikapur fayring 1 पेट्रोल पंप के पास स्थित श्याम आलू भंडार के संचालक संदीप अग्रवाल देर रात अपनी दुकान बंद करके एक थैले में रकम लेकर अपनी कार की ओर बढ़े ही थे कि सामने से पैदल आ रहे एक युवक ने उनपर पिस्टल तान दी और रूपयों का थैला देने को कहा । व्यवसायी संदीप ने रूपयों से भरा बैग दुकान के बगल में फेंक दिया और युवको से मुकाबला किया । लूटेरो ने हड़बड़ाकर व्यवसायी पर फायरिंग की । फायरिंग में एक गोली चली और दूसरी मिस हो गई । अपने इरादे में असफल लूटेरें वहां से मोटरसायकल मे दरिमा रोड़ की ओर भाग निकले सूचना पर पुलिस अधीक्षक आर.एस. नायक व कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची वहां लूटेंरों द्वारा फेंका गया एक देशी पिस्टल और चार जिंदा कारतुस बरामद किया गया । पुलिस अधीक्षक के मुताबिक मौके सें बरामद पिस्टल और कारतूस के सहारे पुलिस आरोपियों तक पहुंचने का प्रयास करेगी । हैरानी की बात यह है कि शहर के चहल पहल वाले इलाके में आरोपियों द्वारा इस घटना को अंजाम देकर मौके से फरार हो जाना कई प्रकार के सवालों को जन्म देता है। इस क्षेत्र में कुछ माह पहले ही व्यवसायी संदीप अग्रवाल के चाचा के लडके राकेश अग्रवाल के साथ भी फायरिंग व लूट की घटना हो चुकी है। बीती रात घटना के बाद मौके पर पहुंचे नेता प्रतिपक्ष श्री सिंह देव ने शहर की कानून व्यवस्था पर कई सवाल खडे़ कियें । इस घटना के बाद यह तो साफ हो गया कि नागरिको की सुरक्षा की डींग हांक कर पुलिस और उसकी व्यवस्था क्यां कर रही है। बहरहाल घटना स्थल से बरामद देशी पिस्टल के सहारे पुलिस आरोपियों को कब तक बापर्दा कर पाती है यह कह पाना फिलहाल जल्दबाजी होगा ।
चिल्लाता रहा व्यवसायी
व्यवसायी संदीप अग्रवाल ने एक लूटेरें को पकड़कर उससे मुकाबला कर रहा था । उस दौरान वह चिल्लाता रहा परन्तु आस पास के कोई व्यवसायी सामने नहीं आये । बन्दुक से निकली गोली की आवाज को भी अन्य व्यवसायियों ने अनसुना कर दिया । अगर कोई संदीप की मदद के लिए पंहुचता तो शायद लूटेरेे आज पुलिस गिरफ्त मेे रहते ।
डेढ़ घंटे एफआईआर में
व्यवसायी संदीप अग्रवाल के रिस्तेदार संजय अग्रवाल ने बताया कि घटना के बाद वे तत्काल कोतवाली पहुंचे परन्तु वहां कोई भी जिम्मेदार पुलिस कर्मी नहीं दिखा । इंतजार करने के बाद पुुलिस कर्मी वहां पहंुचे और इतने गंभीर मामले के बाद भी एफआईआर लिखने में डेढ़ घंटे लगा दिया । व्यवसायियों का कहना है पुलिस की इस प्रकार की कार्यप्रणाली रही तो हम कैसे सुरक्षित रह पायेंगे ।
आरोपी पकडें नहीं तो चक्का जाम
व्यवासायियों पर लगातार हो रही लूट की वारदात से व्यवासायी सहमें हुये है। कल व्यवसायियों का एक प्रतिनिधी मंडल पुलिस अधीक्षक व आईजी से मिलेगा । व्यवसायियो ने बताया कि वे लोग आरोपी को पकड़ने की मांग करेंगे । सात दिवस के भीतर कोई सफलता नहीं मिली तो अग्रसेन मार्ग पर ही चक्का जाम किया जायेगा । व्यवसायियों के द्वारा अग्रसेन मार्ग पर एक पुलिस चैकी खोले जाने की भी मांग की जायेगी ।

Hader add
Hader add
Hader add
Hader add