35 सालो से मनाया जा रहा ईद मिलन … कौमी एकता का प्रतीक बन चुका ईद मिलन सामारोह

539

अम्बिकापुर 

EID_MILAN_MOMINPURA
EID_MILAN_MOMINPURA

रमजान के महीने में रोजेदार का एक महीने का  व्रत उसके बाद अंत मे सेवाइयों में लिपटी मोहब्बत की मिठास का त्यौहार ईद-उल-फितर भूख-प्यास सहन करके एक महीने तक सिर्फ खुदा को याद करने वाले रोजेदारों को अल्लाह का इनाम है ।  मुसलमानों का सबसे बड़ा त्यौहार कहा जाने वाला यह पर्व न सिर्फ हमारे समाज को जोडने का मजबूत सूत्र है बल्कि यह इस्लाम के प्रेम और सौहार्द भरे संदेश को भी फैलाता है । 

EID MILAN AMBIKAPUR

अम्बिकापुर मे भी ईद का त्यौहार ऐसे ही सौहार्दपूर्ण वातावऱण मे मनाया गया । मुस्लिम बाहुल्य इलाके के साथ ईद उल फितर का जश्न पूरे शहर मे दिखा। मंगलवार की सप्ताहिक बंदी के बावजूद त्यौहार के कारण पूरे शहर मे चहल पहल रही और लोग एक दूसरे गले मिलकर ईद की मुबारक बाद देते नजर आए। इस दौरान शहर मे विभिन्न आय़ोजन हुए।

 

इधर शहर के मोमिनपुरा इलाके मे हर साल की तरह इस साल भी ईद उल फितर का त्यौहार सामूहिक रुप से मनाया गया । शहर के समलाया मंदिर के ठीक पीछे पिछले 35 वर्षो से जारी ईद मिल के इस सामूहिक कार्यक्रम मे हिंदू, मुस्लिम ,सिख ,ईसाई सभी धर्मो के अग्रणी लोगो ने शिरकत की। और मुस्लिम समाज के लोगो को ईद की मुबारकबाद दी। इतना ही नही ईद उल फितर के इस मौके पर विधानसभा नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव मिलन सामाहोर के अंत तक लोगो को ईद का मुबारकबाद देने के लिए मौजूद रहे तो ईद मिलन के इस परंपरागत कार्यक्रम मे सरगुजा मसीही समाज के प्रमुख बिशप पतरस मिंज ,पूर्व कांग्रेस जिला अध्यक्ष यूएस सिंहदेव , वृक्ष मित्र ओपी अग्रवाल,  अतुल सिंह, निगम के नेता प्रतिपक्ष शफी अहमद और सिख समाज के प्रमुख लोगो ने भी अपनी उपस्थिती दी।